‘इंदिरा का खून प्रियंका इज कमिंग सून’ पोस्टर से उडी भाजपा की नींद,कांग्रेस बेचैन

0
126

इलाहाबाद में लगा प्रियंका गांधी का पोस्टर,कांग्रेस हैरान,भाजपा परेशान

एक खबर बहुत तेजी से मीडिया और सोसल साइटों पर छा गया जब ये सम्भावना व्यक्त की गयी कि बहुत जल्द प्रियंका राजनीती का हिस्सा बनने जा रही है। प्रियंका अपनी माँ सोनियां गाँधी वाली लोकसभा सीट से चुनाव भी लड़ेगी। ये खबर भाजपा की नींद उड़ा देनेवाली ब्रेकिंग खबर की तरह थी।भाजपा इससे उबरने की कोशिश कर ही रही है कि दूसरी ब्रेकिंग इलाहाबाद से आ गयी। इस बार सुर्ख़ियों में एक पोस्टर है जिसे कांग्रेस के एक कार्यकर्ता ने लगाया है। अभी तक भाजपा पहली खबर को फेक न्यूज़ मानकर खुदको समझाने की कोशिश कर रही थी। अब अचानक ‘इंदिरा का खून ,प्रियंका कमिंग सून ‘ पोस्टर को देख खबर की सच्चाई पर से भाजपा का शक दूर होने लगा। अब भाजप की नींद उडी हुयी है। आखिर अंदरखाने में कहीं-ना-कहीं इसके ऊपर कुछ हो रहा है तभी तो बातें बाहर निकल रही है।
कांग्रेस जिला महासचिव,इलाहाबाद हसीब के पोस्टर के अनुसार कांग्रेस प्रसिडेंट राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी को राजनीति के मैदान में उतारने की अटकलें तेज हो गई हैं। कयास लगाया जा रहा है कि सोनिया गांधी की जगह अब प्रियंका गांधी चुनावी मैदान में आ सकती हैं। इलाहाबाद में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सोशल मीडिया पर इससे संबंधित एक पोस्टर वायरल करके विपक्षी दलों को अचंभे में डाल दिया है।कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सोशल साइट्स पर ‘इंदिरा का खून, प्रियंका इज कमिंग सून’ का पोस्टर वायरल कर दिया है। हसीब उन कार्यकर्ताओं में से एक हैं जो प्रियंका के राजनीती में आने की वकालत काफी दिनों से करते आ रहे हैं। इससे पहले भी हसीब कई बार प्रियंका गांधी को राजनीति में लाने की मांग करते रहे हैं। कांग्रेस पार्टी के बड़े नेताओं ने भी इशारा किया है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में सोनिया गांधी की सीट से उनकी बेटी चुनाव लड़ सकती हैं। लेकिन पार्टी की ओर से अभी इस बात पर कोई पुष्टि नहीं की गई।

हलाकि इसके पहले भी जब इस तरह का मामला आया था तो हसीब पर पार्टी ने अनुशाशनात्मक करवाई की थी और इस बार भी ये सूचना मिल रही है कि हसीब पर डंडा जरूर चलेगा। लेकिन लाख टके का सवाल यह कि पार्टी के अंदर चल रहे मंथन की इस तरह की खबर को क्यों पोस्टर के रूप में लाया गया ?कोंग्रेसियों की परेशानी की वजह यही है। वैसे तो वरिष्ठों के द्वारा अनाधिकारिक तौर पर बाहर इसकी चर्चा तो हो ही रही है। लेकिन पार्टी का मानना है कि इस तरह के किसी भी मुद्दे पर फैसला प्रियंका और उनके परिवार के लोगों को करना है।

तरीका जो भी हो भाजपा ने इसे गंभीरता से लिया है और 2019 की तैयारी खासकर कांग्रेस के गढ़ रायबरेली और अमेठी में अभूतपूर्व तरीके से करना चाहती है ताकि इस बार कांग्रेस और राहुल को उनकी ही जमीन पर धूल चटाया जा सके। इसलिए बीजेपी इस बार कांग्रेस के गढ़ अमेठी और रायबरेली सीट पर अपनी जीत का परचम लहराना चाहेगी। फिलहाल अमेठी से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सांसद हैं और रायबरेली से सोनिया गांधी सांसद हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.