इंदौर में पत्रकार अजय जायसवाल की मौत के मामले में अब एक नया खुलासा सामने आया है। दरअसल, जिस महिला के दबाव में आकर पत्रकार ने ट्रेन के सामने कूदकर अपनी जान दे दी थी,अब उसने भी फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। दरअसल कुछ दिन पहले ही इंदौर में पत्रकार अजय जायसवाल की मौत ट्रेन में कटकर हुई थी।  जिस संदिग्ध में अजय की मौत हुई उसे देखकर पुलिस  ने फौरन एसआई टी का  गठन कर मामले की छानबीन शुरू कर दी।

इंदौर के एरोड्रम थाना क्षेत्र में रहने वाली 27 वर्षीय शिखा, जिसका पति सिलाई करने वाला है और उसके दो बच्चे भी हैं उसने अपने घर में ही पंखे में रस्सी बांधकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इस आत्महत्या के बाद कई बातों का खुलासा हुआ है। दरअसल, जिस संदिग्ध परिस्थितियों में पत्रकार अजय जायसवाल की मौत हुई थी उसके बाद इंदौर के डीआईजी ने मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन भी किया था।

पुलिस ने 27 वर्षीय शिखा को संदेह के घेरे में रखा था क्योंकि उस महिला को पत्रकार अजय जायसवाल की मौत की जिम्मेदार माना जा रहा था। इस बात को लेकर खुलासा तब हुआ जब मौत से पहले शिखा के द्वारा लिखा एक सुसाइड नोट मिला। शिखा ने सुसाइड नोट में लिखा है ‘मैं अपनी मर्जी से आत्महत्या कर रही हूं। पत्रकार अजय जायसवाल की मौत की जिम्मेदार मैं हूं। नितिन राजा और सुनील मुझे कई दिनों से परेशान कर रहे थे। लाखन पटेल से अपनी मर्जी से मैंने संबंध बनाए थे।पुलिस मेरे परिवार को बिलकुल परेशान नहीं करे। वीरेंद्र भैया आप मेरे बच्चों व पति का ख्याल रखिएगा।

मृतका शिखा ने कुछ दिनों पूर्व ही नितिन राजा और सुनील के विरुद्ध दुष्कर्म के मामले में शिकायत भी दर्ज करवाई थी,ठीक उसी समय एरोड्रम क्षेत्र के थाना में एक बिल्डर से करोड़ों की अवैध वसूली के लिए उसे धमकाने की शिकायत भी दर्ज हुई। आश्चर्य की बात यह है कि अभी तक इन मामलों पर पुलिस का ध्यान नहीं गया है।  महिला के आत्महत्या के बाद इंदौर में हुए पत्रकार अजय जायसवाल की मौत का रहस्य अब सुलझने के बजाय संदेह के घेरे में आता जा रहा है।

पुलिस के मुताबिक,सोमवार को घटना के समय घर पर बच्चों के साथ केवल उसकी सास क्षमा थी। उसका पति किसी काम के सिलसिले में बाहर गया हुआ था, उसने जब शिखा को फोन किया तो उसने एक बार भी फोन नहीं उठाया,तब उसने अपनी मां क्षमा बाई को फोन पर शिखा को देखने के लिए घर भेजा तो उसने देखा शिखा फंदे पर लटकी हुई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.