नई दिल्ली: जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) के मुखिया और मधेपुरा से सांसद पप्पू यादव पर बिहार के मुजफ्फरपुर में भारत बंद के दौरान अज्ञात लोगों ने हमला किया.अपनी आपबीती बताते हुए पप्पू यादव फूट फूटकर रोने लगे. दरअसल,भारत बंद के दौरान सड़क जाम कर रहे लोगों ने अपना सारा आक्रोश सांसद पप्पू यादव पर उतार दिया. उन्होंने आपबीती बताते हुए लिखा कि’नारी बचाओ पदयात्रा में मधुबनी जाने के दौरान हमारे काफिले पर भारत बंद के नाम पर गुंडों ने हमला किया.सांसद ने यह भी आरोप लगाया कि उन्हें और उनके समर्थकों के साथ मारपीट की और गालियां भी दी गयीं साथ ही काफिले में शामिल गाड़ियों में भी तोड़फोड़ की गयी.

आखिर हुआ क्या था
सांसद बेटी बचाओ पदयात्रा के लिए पटना में थोड़ा रूककर मधुबनी के तरफ रवाना हुए.वह एनएच होकर जाना चाहते थे. लेकिन, प्रदर्शनकारी उन्हें वापस जाने को बोल रहे थे. उसी दौरान हमारे काफिले पर भारत बंद के नाम पर गुंडों ने हमला किया. उन्होंने कहा, अगर मेरा गार्ड मेरे साथ नहीं होता तो शायद ये लोग मुझे मार ही देते. मुझे और मेरे कार्यकर्ताओं को जाति पूछ-पूछकर बुरी तरह पीटा गया. मैंने इस हमले की जानकारी एसपी को और आईजी को फोन पर दिया.उसके बाद मैंने सीएम को भी फोन किया लेकिन उन्होंने मेरा फोन नहीं उठाया बल्कि सीएम के सचिव ने मेरा फोन उठाया लेकिन उन्हें किसी भी तरह की मदद नहीं दी गई.मधुबनी जा रहे पप्‍पू ने रोते हुए पत्रकारों से कहा कि बंद समर्थकों के भेष में अपराधियों ने आज उन पर जानलेवा हमला किया

उन्होंने इस बात पर आपत्ति जताते हुए कहा कि आखिर बिहार में कोई शासन प्रशासन है, या नहीं! सीएम नीतीश कुमार आप किस कुंभकर्णी नींद में सोए हुए हैं.उन्होंने ट्वीट के द्वारा कहा कि’राज्य और केंद्र की सरकारें देश को जातीय-साम्प्रदायिक हिंसा-प्रतिहिंसा की आग में झोंक देना चाहते हैं। Y सिक्युरिटी सुरक्षा प्राप्त सांसद पर कट्टा लहराकर हमला हो सकता है तो आम लोगों की क्या दशा होगी? पप्पू यादव ने एक और ट्वीट किया,जिसमें उन्होंने दरिंदा ब्रजेश के संरक्षकों के द्वारा हमला करवाये जाने की बात कही है.दरअसल बिहार में बंद का व्यापक असर देखने को मिला.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.