इसे दुर्भाग्य ही कहा जाएगा कि जिस व्यक्ति का जन्मस्थान गांधीजी के गृहप्रदेश में हो ,जिसे दिल्ली हाईकमान ने बिहार में पार्टी की मजबूती का जिम्मा दिया हो ,वो व्यक्ति गांधी जयंती पर पुण्यतिथि मनाए तो इससे बड़ा आश्चर्य और क्या हो सकता है।जी हां,हम बात कर रहे हैं बिहार कॉंग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल की।महात्‍मा गांधी की जयंती के दिन बिहार कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने उन्‍हें पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि दे दी। इसके बाद ट्विटर पर उनकी काफी फजीहत भी हुई।..

विवादों के साथ मानों बिहार कांग्रेस का संबंध चोली दामन का हो गया है ।विवादों में रहना यहां के कांग्रेसियों की नियति सी बन गयी है।कुछ इसीतरह की छीछलेदारी  गांधी जयंती के अवसर पर बिहार में कांग्रेस को झेलनी पड़ी है।बिहार कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने मंगलवार को गांधी जयंती के अवसर पर ट्वीट कर गांधीजी को उनकी ‘पुण्यतिथि’ पर श्रद्धांजलि दे दी। हालांकि, उन्‍होंने बाद में भूल सुधार कर लिया, लेकिन इस कारण उनकी जबरदस्‍त ट्रोलिंग हो गई।

शक्ति सिंह गोहिल ने ट्वीट में लिखा ‘हे साबरमती के संत, जब आज देश में झूठ और हिंसा का बोलबाला है, वहां आपके सत्य और अहिंसा के माध्यम से लड़ी बड़ी से बड़ी लड़ाईयां हमें प्रेरणा देती हैं कि ताकत कोई भी हो, कितनी भी शक्तिशाली हो, आपके बताए रास्‍ते पर चलकर ही विजय पाई जा सकती है। …आपकी 150वीं पुण्यतिथि पर आपको शत- शत नमन।’ गोहिल का यह ट्वीट तुरंत वायरल हो गया। लोगों ने उनके ज्ञान पर न सिर्फ सवाल उठाने लगे बल्कि तरह-तरह के तंज कसने लगे।लेकिन जब उन्हें गलती का अहसास हुआ तो इस ट्वीट को अपने हैंडल से हटाकर दूसरा ट्वीट किया, जिसमें उन्‍होंने भूल सुधार करते हुए शेष बातें यथावत रखीं। इस ट्वीट में उन्‍होंने ‘जन्मतिथि’ पर नमन लिखा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.