नई दिल्ली। कहते हैं कि इंसान की परचाई उसका साथ कभी नहीं छोड़ती है। लेकिन आज यानी 21 जून को आपकी परछाई भी आपका साथ छोड़ देगी। 21जून साल का सबसे बड़ा दिन होता है। आज दिन सबसे बड़ा और रात छोटी होगी। उत्तरी गोलार्द्ध में स्थित सभी देशों में दिन बड़ा और रात छोटी होती है। आज के दिन में एक पल ऐसा भी आता है जब परछाई इंसान का साथ छोड़ देती है।

21 जून को सबसे बड़ा दिन

21 जून को सबसे लंबा दिन होता है, क्योंकि इस दिन सूरज उत्तरी गोलार्द्ध से चलकर भारत के मध्य से गुजरी कर्क रेखा में आ जाता है। जिसकी वजह से आज के दिन सूरज की किरणें सबसे ज्यादा समय तक धरती पर पड़ती हैं। यही वजह है कि 21 जून को दिन बड़ा और रात छोटी होती है। धरती अपने अक्ष पर चक्कर लगाने के साथ-साथ सूरज के चारों तरफ भी घूमती है। वह अपने अक्ष में 23.5 डिग्री झुकी हुई है। इसकी वजह से सूरज की रोशनी धरती पर हमेशा एक जैसी नहीं पड़ती । इसकी वजह से 21 जून के दिन दोपहर में एक पल ऐसा भी आता है जब परछाई नहीं बनती है। जब सूरज ठीक कर्क रेखा के ऊपर होता है, उस वक्त परछाई नहीं बनती है। आज के दिन करीब 15 से 16 घंटे तक सूर्य की रोशनी धरती पर पड़ती है।
आपको बता दें कि 21 जून को साल का सबसे लंबा दिन होता है, लेकिन हर जगह ऐसा हो ये जरूरी नहीं है। कहने का मतलब ये है कि 20 जून, 21 जून और 22 जून में से किसी भी दिन साल का सबसे लंबा दिन हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.